स्वर्ग मंडप कोल्हापुर में है, इसको इस तरह बनाया गया है कि सिर्फ कार्तिक मास की पूर्णिमा को रात्रि में चंद्रमा इस के बीचों बीच देखा जाता है ऐसा साल में एक बार ही होता है।

प्रकाशम (आंध्र प्रदेश) से एक 300 पुरानी दिए के आकार वाली बावड़ी है, इस क्षेत्र में पेयजल का यही एकमात्र स्रोत है।

कोनार्क सूर्य मंदिर भारत के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से है, UNESCO द्वारा सन 1984 में इसे विश्व धरोहर घोषित किया गया, साल में एक समय ऐसा आता है जब सूर्य मंदिर के बीचों बीच से उदय होते हुए देखा जाता है।

अजंता की गुफा महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में स्थित है। ये गुफाएं अपनी शिल्प कलाओं के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध हैं, इन गुफाओं को तकरीबन 4 हजार वर्ष पूर्व का बताया जाता है।

मोढेरा सूर्य मंदिर गुजरात में स्थित हे जो कि भारत का एक प्रसिद्ध सूर्य मंदिर है, इसकी शिल्प कला को देखने लाखों लोग हर साल आते हैं।

मनोरंजन से जुड़ी अन्य खबरों के लिए newsindia.tv पर आएं