होम / उत्तर प्रदेश

अखिलेश यादव की रैली में उमड़ी भीड़, कोरोना नियमों की उड़ी धज्जियां; एफआईआर दर्ज

समाजवादी पार्टी का कार्यक्रम बिना अनुमति के हुआ। इस कार्यक्रम को वर्चुअल रैली का नाम दिया गया था, जहां भारी भीड़ मौजूद थी।

फोटोः ट्विटर

Uttar Pradesh: बीजेपी के बागी नेताओं ने आज शुक्रवार को समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। इसमें स्वामी प्रसाद मौर्य भी शामिल रहे। लेकिन आज के इस कार्यक्रम से अखिलेश यादव मुश्किल में फंस सकते हैं, क्योंकि लखनऊ के डीएम ने इस पर जांच के आदेश दे दिए हैं।

लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश का कहना है कि समाजवादी पार्टी का कार्यक्रम बिना अनुमति के हुआ। इस कार्यक्रम को वर्चुअल रैली का नाम दिया गया था, जहां भारी भीड़ मौजूद थी। जैसे इस बात की सूचना मिली तो मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस टीम को सपा दफ़्तर भेजा गया। 

 

बता दें कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक किसी भी प्रकार की रैलियों पर रोक लगा रखी हैं। केवल वर्चुअल तरीके से ही प्रचार करने की अनुमति है। 

You can share this post!

UP Election 2022: स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई BJP MLA सपा में शामिल, किया ऐलान-ये बीजेपी के अंत की शुरुआत

UP Elections 2022: योगी आदित्‍यनाथ के 80:20 के जवाब में स्‍वामी प्रसाद मौर्य का 85:15 का फॉर्मूला, समझें गण‍ित

Leave Comments