होम / खेल-खिलाड़ी

पहला टेस्ट : दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 59/2, जीतने के लिए 246 रनों की जरूरत

कगिसो रबाडा (4/42 ) और मार्को जेनसेन (4/55) की शानदार गेंदबाजी के आगे मेहमान टीम अपनी दूसरी पारी में महज 174 रनों पर ढेर हो गई। 

दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज के खिलाफ अपील करते सिराज

सेंचुरियनः सुपरस्पोर्ट पार्क में बुधवार को पहले टेस्ट के चौथे दिन खबर लिखे जाने तक दक्षिण अफ्रीका ने भारत के खिलाफ दूसरी पारी में 24 ओवर की समाप्ति पर 59/2 रन बना लिए हैं। कप्तान डीन एल्गर 70 गेंदों पर 31 रन बनाकर डटे हुए हैं और उनका साथ दे रहे रसी वान डेर डुसेन 32 गेंदों पर 9 रन बनाकर डटे हुए हैं। मेजबान टीम को अभी भी जीतने के लिए 246 रनों की जरूरत है। इसके पहले कगिसो रबाडा (4/42 ) और मार्को जेनसेन (4/55) की शानदार गेंदबाजी के आगे मेहमान टीम अपनी दूसरी पारी में महज 174 रनों पर ढेर हो गई। 

305 रनों के लक्ष्य को हालिस करने उतरी प्रोटियाज टीम की शुरुआत बहुत ही निराशाजनक रही। उसके सलामी बल्लेबाज मार्करम (1) को मोहम्मद शमी ने अपने पहले और टीम के दूसरे ओवर में ही क्लीन बोल्ड कर दिया, उस समय मेजबान टीम का स्कोर महज एक रन ही था। अभी स्कोर बोर्ड में 33 रन ही और जुड़े थे कि कीगन पीटरसन को मोहम्मद सिराज ने अपना शिकार बनाया। उन्हें सिराज ने विकेट के पीछे पंत के हाथों कैच करवाया। आउट होने से पहले कीगन पीटरसन ने 36 गेंदों पर 17 रनों का योगदान किया।

भारत को मिली 304 रनों की बढ़त

इससे पहले, भारत को 300 से ज्यादा बढ़त दिलाने के लिए ऋषभ पंत ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और 34 रन बनाकर आउट हो गए। इससे पहले लंच के बाद, पहली गेंद पर विराट कोहली ही दूसरी बार ड्राइव खेलते हुए आउट हो गए। इसके बाद, चेतेश्वर पुजारा भी लुंगी एनगिडी की गेंद पर डी कॉक को कैच थमा बैठे। 

रहाणे और पंत ने बनाए तेजी से रन

हालांकि अजिंक्य रहाणे ने मार्को जेनसेन को तीन चौके लगाए और तेजी से रन जोड़ने की कोशिश की। लेकिन जेनसन के अगले ओवर में तेज रन बनाने के चक्कर में आउट होकर वापस पवेलियन लौट गए। इस बीच, पंत और रविचंद्रन अश्विन ने सातवें विकेट के लिए 35 रनों की साझेदारी करते हुए अच्छे शॉट लगाए, लेकिन थोड़ी देर बाद रबाडा ने अश्विन को आउट कर दिया। इसके बाद रबाडा ने शमी को आउट करते पारी का अपना चौथा विकेट लिया। इस तरह से भारत की दूसरी पारी 174 पर समाप्त हो गई, जिससे दक्षिण अफ्रीका को 305 रनों का लक्ष्य मिला।

You can share this post!

भारतीय फुटबॉल टीम के लिए बेहतरीन रहा साल 2021, बटोरी हैं खूब सुर्खियां

2021 में इन भारतीय खिलाड़ियों ने पूरी दुनिया में जमायी अपनी धाक, जमकर बटोरे मेडल

Leave Comments