होम / खेल-खिलाड़ी

Happy Birthday: महज 23 बरस की उम्र में विराट ने हासिल कर ली थी ये उपलब्धियां, जानें अब तक का सफर

ये कोहली का शानदार परफॉर्मेंस है कि क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में कोहली ने 50 रन प्रति पारी के औसत से भी अधिक रन बनाए हैं।

विराट कोहली

नई दिल्लीः क्रिकेट की दुनिया में आज शायद ही कोई ऐसा दिग्गज गेंदबाज हो जो विराट कोहली (Virat Kohli) के खौफ से रुबरू ना हो। विराट विश्व क्रिकेट में एक ऐसा नाम है जो कभी भी किसी भी गेंदबाज की बखिया उधेड़ने की क्षमता रखता है। आज विराट कोहली अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने 18 अगस्त साल 2008 को इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था तब उनकी उम्र महज 19 साल की थी। ये कोहली का शानदार परफॉर्मेंस है कि क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में कोहली ने 50 रन प्रति पारी के औसत से भी अधिक रन बनाए हैं। अब तक विराट कोहली ने भारत के लिए 96 टेस्ट, 254 वन डे और 92 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। 

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने से पहले ही विराट कोहली अपनी कप्तानी में साल 2008 में भारत को अंडर-19 विश्वकप का खिताब जिता चुके थे। वहीं साल 2011 में भी वो धोनी की अगुवई में टीम इंडिया के विश्व विजेता टीम के हिस्से रहे। इस तरह से विराट कोहली ने महज 23 साल की उम्र में ही क्रिकेट के सबसे बड़े खिताब कहे जाने वाले विश्वकप को एक नहीं दो बार जीत लिया था। इसके अलावा विराट कोहली चैंपियंस ट्राफी में भारतीय टीम का हिस्सा रहे थे। साल 2014 में विराट कोहली ने पहली बार टीम इंडिया के टेस्ट फॉर्मेट की कमान संभाली थी। वहीं साल 2017 में विराट को एकदिवसीय मैचों की भी कप्तानी शुरू कर दी थी। 

यह भी पढ़ेंः T-20 World Cup: Team India की लगातार हार के बीच कप्तान विराट कोहली के समर्थन में आगे आए राहुल गांधी

विराट कोहली ने अपनी कप्तानी में भारतीय टीम को बड़ी उपलब्धियां दिलवाईं इसमें से सबसे महत्वपूर्ण उपलब्धि साल 2019 में ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतकर आना रही है।  इस दौरे पर विराट की अगुवई में टीम इंडिया ने वो कारनामा कर दिखाया जो तब तक कोई भी भारतीय कप्तान नहीं कर सका था। टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से शिकस्त दी थी। हालांकि कोहली की कप्तानी में भारत ने कई ट्रॉफी अपने नाम की, लेकिन आईसीसी ट्रॉफी अब तक नहीं जीत पाई। चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत 2017 में पहुंचा लेकिन पाकिस्तान ने भारत को हरा दिया। वर्ल्ड कप की बात करें तो 2019 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत गया लेकिन जीत नहीं पाया।

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तानी पत्रकार के इस सवाल पर भड़के कप्तान विराट कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टीम इंडिया को न सिर्फ मैच जितवाए बल्कि इस टीम में खिलाड़ियों की फिटनेस पर भी बेहतरीन काम किया। विराट कोहली इस बात को मानते हैं कि क्रिकेट का खेल पहले की तुलना में अब काफी बदल चुका है और इस दौर में फिटनेस के बिना किसी खिलाड़ी का टीम में बना रहना आसान नहीं। आज यही वजह है कि टीम इंडिया के पास बेहतरीन खिलाड़ियों की फौज खड़ी है चाहे तेज गेंदबाजों की बात या फिर स्पिन वहीं बल्लेबाजी और ऑलराउंडर्स की तो गिनती ही नहीं है। 

यह भी पढ़ेंः शमी को ट्रोल करने वालों पर भड़के विराट कोहली, धर्म किसी को निशाना बनाने का बहाना नहीं

विराट कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अब तक 70 शतक लगाए हैं। इनमें से 41 शतक तो विराट कोहली ने बतौर कप्तान लगाए हैं। विराट ने 96 टेस्ट मैचों में 7 दोहरे शतक लगाए हैंऔर ये सभी दोहरे शतक विराट कोहली ने बतौर कप्तान लगाए हैं। कप्तानी की बात करें तो कोहली ने 65 टेस्ट में कप्तानी की है और सबसे ज्यादा 38 टेस्ट जीते हैं। टी-20 विश्वकप में आज भारत का मुकाबला स्कॉटलैंड से है। इस जन्मदिन को विराट स्कॉटलैंड पर एक बड़ी जीत के साथ पूरा करना चाहेंगे ताकि भारत विश्वकप प्रतिस्पर्धा में बना रहे। 

You can share this post!

INDvsAF: बल्लेबाजों के हल्लाबोल के बाद अश्विन-शमी चमके, टीम इंडिया ने हासिल की 66 रनों से जीत

Scotland Vs India: भारत ने स्कॉटलैंड को कुछ ऐसे दी मात, अब न्यूजीलैंड-अफगानिस्तान मैच पर नजर

Leave Comments