होम / खेल-खिलाड़ी

भारतीय क्रिकेट टीम चयन में कैप्टन और कोच का होना बेहद जरूरी : शास्त्री

रवि शास्त्री ने टीम इंडिया के साथ पहले टीम निदेशक और फिर मुख्य कोच के तौर पर काम किया। अब उन्होंने BCCI को एक नसीहत दी है।

फाइल फोटो

मुंबई: रवि शास्त्री लंबे समय तक भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रहे थे। उनके रहते टीम ने काफी सफलता हासिल की। रवि 2014 में इस पद पर आए थे। बाद में उन्हें इस पद से हटा दिया गया था। अब उन्होंने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और हेड कोच राहुल द्रविड़ को नसीहत दी है।
भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री का मानना है कि भविष्य में टीम चयन करते वक्त कप्तान और कोच दोनों की भूमिका जरुरी है। क्योंकि भारतीय क्रिकेट में चयन प्रक्रिया में कप्तान चयन समिति की बैठक में अपनी राय रख सकता है लेकिन फैसले BCCI की पांच सदस्यीय चयन समिति ही लेती है जबकि कोच की इसमें कोई भूमिका नहीं होती। इसलिए इसको बदलना बेहद जरुरी है।

राहुल द्रविड़ और खुद को बताया अनुभवी कोच

शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स के शो बोल्ड एंड ब्रेव पर कहा, "मुझे लगता है कि यह बेहद जरुरी है कि टीम चयन में कैप्टन और कोच की बात होनी चाहिए। दोनों को आधिकारिक तौर पर अपनी बात रखनी चाहिए। खासकर अगर कोच मेरे जैसा अनुभवी हो या फिर राहुल द्रविड़ जैसा हो। शास्त्री ने बताया कि इंडियन क्रिकेट में कैप्टन द्विपक्षीय सीरीज या आईसीसी टूर्नामेंट से पहले इनपुट देने के लिए चयन समिति हिस्सा होता है, लेकिन अंतिम टीम चुनने का निर्णय पांच सदस्यीय चयन पैनल के पास है।
शास्त्री का मानना है कि कैप्टन को व्यक्तिगत रूप से चयन बैठक में होना चाहिए, फोन पर या बाहर नहीं। ताकि वो चयनकर्ताओं की मानसिकता देखने का मौका मिले। उन्होनें आगे कहा की यह ऑस्ट्रेलिया में चयन प्रणाली के बिल्कुल अलग है, जहां मुख्य कोचों को टीम का चयन करने के लिए कहा जाता है। वहीं, इंग्लैंड में भी मुख्य कोच चयनकर्ता होता है।

शास्त्री को 2017 में भारतीय क्रिकेट टीम का कोच बनाया

कमेंटरी के अलावा रवि शास्त्री दो साल तक भारतीय टीम के निर्देशक भी रह चुके है। 2017 में रवि शास्त्री को भारतीय क्रिकेट टीम का कोच बनाया गया था। उनकी कोचिंग में भारतीय क्रिकेट टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन वह भारत को एक भी ICC Tournament नही पाए। रवि शास्त्री की कोचिंग में भारतीय क्रिकेट टीम ने ICC Champions Trophy और ICC World Test Championship के फाइनल तक पहुंची, लेकिन टीम फाइनल में हार गई। इसके अलावा भारतीय क्रिकेट टीम साल 2019 में हुए ICC Cricket World Cup के सेमीफाइनल तक ही पहुंची पाई थी। रवि शास्त्री की कोचिंग में भारतीय क्रिकेट टीम साल 2021 के T20 वर्ल्ड कप में पहले ही दौर में बाहर हो गई थी। इस वर्ल्ड कप के बाद ही रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के कोच के पद से हट गए थे।

You can share this post!

IND vs SA: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 113 रनों से शिकस्त दी, सीरीज में 1-0 की बढ़त

IND vs SA: भारत बना सेंचुरियन टेस्ट जीतने वाला पहला एशियाई देश, कोहली हुए और 'विराट'

Leave Comments