होम / बात देश की

WHO ने 23 देशों में Omicron वेरिएंट की पुष्टि की, जानिए भारत के नए ट्रैवल रूल्स

भारत के नए यात्रा नियम में "जोखिम वाले" देशों के यात्रियों को कोविड के आरटी-पीसीआर परीक्षण के नतीजे आने तक हवाई अड्डों पर प्रतीक्षा करने के लिए कहा गया है।

सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली :  विश्व स्वास्थ्य संगठन-डब्ल्यूएच (World Health Organization-WHO) के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेब्येयियस ने बुधवार को कहा कि 23 देशों में कोरोनावायरस के नए वेरिएंट ओमीक्रोन (Omicron) की पुष्टि की गई है और संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ने की आशंका है। ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए भारत के नए यात्रा नियम जारी किए हैं। इसमें "जोखिम वाले" देशों के यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे अपने कोविड आरटी-पीसीआर परीक्षण (RT-PCR test) के परिणाम आने तक हवाई अड्डों पर प्रतीक्षा करने के लिए तैयार रहें। केंद्र सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए नियम जारी किए जो सभी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर लागू होंगे।

टेस्ट रिपोर्ट आने तक एयरपोर्ट पर रुकेंगे यात्री

कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन के मद्देनजर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ सार्वजनिक स्वास्थ्य तैयारियों की समीक्षा के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक के बाद इन नए नियमों की घोषणा की गई। "जोखिम वाले" देशों के यात्रियों के आगमन पर कोविड के लिए परीक्षण किया जाएगा और जब तक उनके आरटी-पीसीआर परीक्षण के नतीजे नहीं मिल जाते, वे हवाई अड्डे से बाहर नहीं जा सकते। यदि वे निगेटिव पाए जाते हैं, तो उन्हें सात दिन के होम क्वारंटाइन (home quarantine) में रहना होगा और 8वें दिन फिर से परीक्षण किया जाएगा। प्रभावी होम क्वारंटाइन सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के अधिकारी उनके घरों का दौरा करेंगे।

यदि कोरोना वायरस का टेस्ट पॉजिटिव पाया जाता है, तो यात्रियों को अलग कर दिया जाएगा और उनका इलाज किया जाएगा। उनके नमूने तुरंत INSACOG लैब्स नेटवर्क को भेजे जाएंगे। ये प्रयोगशालाओं और एजेंसियों का एक अखिल भारतीय नेटवर्क है जिसे सरकार ने SARS-CoV-2 की जीनोमिक भिन्नताओं की निगरानी के लिए स्थापित किया गया है। इसका मकसद कोविड के विभिन्न वेरिएंट के बीच अंतर की जांच करना है। "जोखिम वाले" देशों की सूची में यूनाइटेड किंगडम, यूरोप के सभी 44 देश, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इजराइल शामिल हैं।

ये भी पढ़ें : जबरन बनाया जा रहा राम मंदिर, कानून के खिलाफ है निर्माण: सपा सांसद

राज्यों को सतर्कता बढ़ाने की सलाह  

राज्यों को सलाह दी गई है कि वे अपनी सतर्कता को कम नहीं करें और विभिन्न हवाई अड्डों, बंदरगाहों और जमीनी सीमा से देश में आने वाले अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों पर कड़ी निगरानी रखें। राज्यों को कोविड परीक्षण में तेजी लाने की भी सलाह दी गई है। बताया जा रहा है कि 'ओमीक्रोन' वेरिएंट का आरटी-पीसीआर और रैपिड एंटीजन टेस्ट से पता चल सकता है। केंद्र ने उन क्षेत्रों की निरंतर निगरानी की भी सलाह दी है जहां हाल ही में कोरोना पॉजिटिव मामलों की ज्यादा संख्या सामने आई है। ग्रामीण क्षेत्रों और बाल चिकित्सा के मामलों पर ध्यान देने के साथ आईसीयू, ऑक्सीजन बेड, वेंटिलेटर आदि की उपलब्धता सहित बुनियादी स्वास्थ्य ढांचे की तैयारी की सलाह दी गई है। इस साल की शुरुआत में जब भारत में कोविड की दूसरी लहर आई तो स्वास्थ्य सुविधाओं की भारी कमी पाई गई।

You can share this post!

जबरन बनाया जा रहा राम मंदिर, कानून के खिलाफ है निर्माण: सपा सांसद

23 देशों में हुई Omicron वेरिएंट की पुष्टि, कई देशों ने लगाया ट्रैवल बैन

Leave Comments