होम / बात देश की

ओवैसी के सेक्युलर दलों पर सियासी हमले से भाजपा क्यों बेचैन ! जानिए..

ओवैसी ने कहा कि 2014 और 2017 के चुनाव में तमाम सेकुलर पार्टियां मिलकर भी बीजेपी क्यों नहीं रोक सकीं। अब सब अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं।

AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी.

नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर दलित और मुस्लिम वोट बैंक पर सेंध लगाने के लिए सियासी पार्टियों पर जमकर तंज कसे हैं। प्रयागराज के मजीदिया इस्लामिया इंटर कॉलेज,अटाला में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने मोदी और योगी सरकार की कथित नाकामियों और दलित, मुस्लिम,ओबीसी पर हो रहे तथाकथित जुल्म-अत्याचार पर जमकर बयानबाजी की। 

ओवैसी ने सपा, बसपा और  कांग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि "बीजेपी मुक्त प्रदेश बनाने के लिए जो भी सेकुलर दल हैं, हम उनसे बात करने के लिए तैयार हैं। वे आएं और बात करें। अब बात भी ना करें और बेबुनियाद आरोप भी लगाएं, ये बात सही नहीं है। उन्होंने कहा कि 2014 और 2017 के चुनाव में ये तमाम सेकुलर पार्टियां मिलकर भी बीजेपी क्यों नहीं रोक सकीं। अब सब अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं। ऐसे में बीजेपी को फायदा पहुंचाने का काम ये तमाम सेकुलर दल कर रहे हैं।" 

 

इस जनसभा में पूर्व सांसद अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने जेल में बंद अतीक अहमद का लिखा हुआ संदेश लोगों के बीच पढ़ा। जनसभा में दो हजार से अधिक आई भीड़ को देखकर ओवैसी खासे उत्साहित दिखे।

ये भी पढ़ें: दिल्ली में ओवैसी के सरकारी आवास पर प्रदर्शन, तोड़फोड़ का आरोप

ओवैसी की यूपी में लगातार बढ़ती बयानबाजी का भाजपा के नेता विरोध भी कर रहे हैं। यूपी कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि जिस चीज़ की इजाज़त संविधान देता है उसे असदुद्दीन ओवैसी करना नहीं चाहते। ओवैसी की नीतियां सांप्रदायिकता की आग को सुलगाने की होती हैं। हम ना टोपी देखते हैं ना तिलक और ओवैसी टोपी और तिलक के बीच में दरार डालना चाहते हैं।  

You can share this post!

13 साल बाद डल झील पर हुआ एयर शो, वायुसेना ने किए हैरतअंगेज करतब

जोजिला टनल का अनुराग ठाकुर ने किया निरीक्षण, देखें क्या है खास!

Leave Comments