होम / बात देश की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की काशी यात्रा पर न्यूज़ इंडिया की शानदार ग्राउंड कवरेज

प्रधानमंत्री बनने के बाद से नरेंद्र मोदी ने काशी को वो प्यार लौटाने की पूरी कोशिश को जो ये शहर उन पर लुटाता रहा है।

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और काशी का अलग रिश्ता है। ये वही काशी है जिसने नरेंद्र मोदी को बुलाया। ये वही काशी है जिसने मोदी के सिर प्रधानमंत्री का ताज मुकम्मिल किया। दुनिया के लिए नरेंद्र मोदी दिल्ली वाले प्रधानमंत्री हैं, लेकिन बनारस के लिए मोदी उनके चहेते सांसद और गंगा-पुत्र हैं।

प्रधानमंत्री पर उमड़ा काशी वासियों का प्यार

प्रधानमंत्री बनने के बाद से नरेंद्र मोदी ने काशी को वो प्यार लौटाने की पूरी कोशिश को जो ये शहर उन पर लुटाता रहा है। पीएम मोदी ने काशी के कायापलट का नक्शा तैयार किया और उसमें दिन रात जुट गए। बनारस की तस्वीर बदल रही है और बनारस के बाशिंदों की तकदीर बदल रही है, और यही वजह है कि पीएम मोदी के हर काशी दौरे से घंटों पहले पूरा बनारस स्वागत में पलकें बिछाए बैठा रहता है। बनारस दोनों बाहें खोल पीएम मोदी के इस्तकबाल का इंतजार करता है।  प्रधानमंत्री के आने से पहले काशी को किसी दुल्हन सा सजाया गया। काशी की गलियां मोदी के चाहने वालों से गुलज़ार हो गईं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक झलक पाने के लिए पूरा बनारस सड़कों पर उतरा आया। चारों तरफ सिर्फ लोग ही लोग, महादेव के नगरी में पीएम के आगमन पर पूरी काशी मोदी मय हो गई। मोदी के जयकारों से काशी की चारों दिशाएं गूंज उठीं।

पीएम की बात सुनने के लिए उमड़ पड़ा हर काशी वासी

प्रधानमंत्री मोदी को सुनने के लिए पूरा बनारस अपने रंग में ढोल ताशे लेकर निकल पड़ा। पीएम मोदी को सुनने के लिए एक सैलाब उमड़ पड़ा। क्या बच्चे, क्या बुजुर्ग, क्या नौजवान। आम लोगों से लेकर साधु संत तक। सब घरों से निकल कर पीएम मोदी को सुनने के लिए सभा स्थल कूच कर गए, पूरा पंडाल खचाखच भर गया।  पीएम मोदी के मंच पर आते ही इंतजार खत्म हो गया। लोगों ने दिल से मोदी के दिल की बातें सुनीं। 

पीएम मोदी के दिवाली गिफ्ट से खुश दिख रहे काशी के वासी

काशी को मिले दिवाली गिफ्ट से जनता बेहद खुश है, लोगों का कहना है कि पीएम मोदी ने काशी का रंग-ढंग बदल दिया है। पीएम मोदी ने काशी में विकास की गंगा बहा दी है। बनारस के घाटों पर अमन की हवा चलती हैं। सुकून की फिजा महकती हैं। बाबा की नगरी में घाटों का ज़िक्र किए बिना काशी को परिभाषित नहीं किया जा सकता। पीएम मोदी के आने से पहले दशाश्वमेध घाट अपने पूरे शबाब पर नजर आया। गंगा घाट, जिसे बनारस की आन कहते हैं, शान कहते हैं... जिसके बिना बनारस को समझा नहीं जा सकता। पीएम मोदी ने बनारस के सड़कों से लेकर बनारस के घाटों तक की तस्वीर बदली है।

ग्राउंड जीरो से न्यूज़ इंडिया किया पीएम मोदी का पूरा दौरा

दिवाली से पहले बनारस पर पीएम मोदी ने तोहफों की बारिश की है। बाबा की नगरी मोदी की सौगातों से सराबोर हो गई है। काशी की जनता कहती है कि मोदी ही ने ही बाबा की नगरी को नए दौर का बनारस बनाया है। पीएम मोदी के दौरे से पहले और दौरे बाद के बाद की हर तस्वीर को न्यूज़ इंडिया ने ग्राउंड ज़ीरो से कवर किया, और दिखाया कि बनारस के बाशिंदे आखिर पीएम मोदी पर क्यों अपनी जान न्यौछावर करते हैं, क्यों मोदी से काशी को इतनी मोहब्बत हो गई है।

You can share this post!

केंद्र सरकार की योजनाएं सार्वजनिक स्वास्थ्य ढांचे में कमियों को दूर करेगी : मंडाविया

Aryan Khan Bail live Update: आज आ सकता है जमानत पर बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला

Leave Comments