होम / बात देश की

Corona Virus Highlights: देश में पिछले 24 घंटों में कुल 15,906 नए मामले, 561 लोगों की मौत

भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के कुल 15,906 नए मामले सामने आए हैं। वहीं कोरोना वायरस से अभी तक 561 लोगों की कोरोना संक्रमण से जान गंवाने कि पुष्टि हुई है।

सांकेतिक चित्र

नई दिल्लीः भारत में स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घटों में कोरोना संक्रमण के कुल  15,906 नए मामले सामने आए हैं। जिसमें 561 लोगों ने कोरोना संक्रमण से अपनी जान गंवा दी है। वहीं शनिवार कोरोना के 16 हजार से ज्यादा के नए मामले देखने को मिले थे। स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपनी रिपोर्ट के अनुसार अभी तक भारत में कोरोना संक्रमित के  कुल 3,41,75,468 मामले होने की पुष्टि की है। भारत में अभी तक कोरोना संक्रमण के कुल 1,72,594 मामले सक्रिय हैं।

561 लोगों ने बीते 24 घंटों में गवाई जान 

 

स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार बीते 24 घंटों में अब तक 561 मरीजों ने अपनी जान कोरोना संक्रमित होने से गंवा दी है। आंकड़ों के मुताबिक देश में इस वक्त कोरोना के कुल  1,72,594 मामले सक्रिय हैं। 

यह भी पढ़ेंः झारखंडः रेलवे स्टेशन पर कोविड जांच में 55 यात्री पॉजिटिव पाए गए, बढ़ रहे मामले

देश में कोरोना संक्रमण के कुल 3,41,75,468 मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोरोना के अभी तक कुल  3,41,75,468 मामले हैं। जिसमें से कुल 4,54,269 लोगों ने कोरोना संक्रमण के कारण अपनी जान गंवा दी। वहीं  कुल 3,35,48,605 लोग कोरोना से ठीक हो गए हैं और कुल 1,72,594 मामले कोरोना के अभी भी सक्रिय हैं।

यूके हेल्थ एजेंसी के अनुसार पाया गया वायरस का नया वैरिएंट

यूके हेल्थ सिक्योरिटी एजेंसी (यूकेएचएसए) ने पुष्टि की है कि डेल्टा वैरिएंट सब-लाइनेज (डेल्टा एवाई.4.2) को 20 अक्टूबर को वैरिएंट अंडर इन्वेस्टिगेशन (वीयूआई) नामित किया गया था और इसे आधिकारिक नाम वीयूआई-21अक्टूबर-01 दिया गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यूकेएचएसए ने कहा कि यह नाम इस आधार पर बनाया गया था कि यह हाल के महीनों में देश में आम हो गया है और कुछ शुरूआती सबूत हैं, कि डेल्टा की तुलना में ब्रिटेन में इसकी वृद्धि दर बढ़ सकती है। 20 अक्टूबर तक, इंग्लैंड में 15,120 पुष्ट मामले थे। यहां पहली बार जुलाई में इसका पता चला था। पिछले सप्ताह के दौरान सभी मामलों में यह लगभग 6 प्रतिशत था। इंग्लैंड के सभी नौ क्षेत्रों में पूरे जीनोम अनुक्रमण के माध्यम से मामलों की पुष्टि की गई है। यूकेएचएसए ने कहा कि वह इसकी बारीकी से निगरानी कर रहा है। हालांकि मूल डेल्टा वैरिएंट देश में 'अत्यधिक प्रभावी' है, जो कुल मामलों का लगभग 99.8 प्रतिशत है।

You can share this post!

पेट्रोल, डीजल की महंगाई के विरोध में देश भर में सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस

मन की बात : दीवाली पर लोकल सामान खरीदें, त्योहार भी रोशन, कारीगर, बुनकर के घर में भी रोशनी

Leave Comments