होम / बात देश की

सीमा पर दुश्मनों के खिलाफ जंग के साथ ही आर्मी में भ्रष्टाचार से भी लड़ते रहे CDS Bipin Rawat

CDS जनरल बिपिन रावत को सेना के भीतर पनपते भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग छेड़ने के लिए भी याद किया जाएगा।

CDS जनरल बिपिन रावत पाकिस्तान से हो रही आतंकवादियों की घुसपैठ और डोकलाम पठार और लद्दाख में आक्रामक हो रहे चीनियों के खिलाफ डटकर खड़े हुए, तो दूसरी ओर उन्हें सेना के भीतर भ्रष्टाचार के खिलाफ युद्ध शुरू करने के लिए भी याद किया जाएगा। एक अन्य क्षेत्र जहां उन्होंने अपने खुद के जनरलों के खिलाफ लड़ाई लड़ी, वह था विशेष रूप से तीनों सेवाओं के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा विकलांगता पेंशन का दुरुपयोग करना। जनरल रावत ने पाया कि वरिष्ठ अधिकारी सेवानिवृत्ति से पहले अपनी चिकित्सा श्रेणी (medical category) को जानबूझकर घटा रहे थे ताकि न केवल अपने और अपने बच्चों के लिए विकलांगता लाभ हासिल किया जा सके बल्कि कर-मुक्त पेंशन भी मिल सके।   
 

You can share this post!

Cyber Attack: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्विटर अकाउंट हैक, सोशल मीडिया में मची हलचल

विजय दिवस के 50 साल पूरे, राजनाथ सिंह ने कहा; भारत आतंकवाद को जड़ से करेगा खत्म

Leave Comments