होम / लाइफस्टाइल

कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद बच्चों में दिख सकते हैं ये साइड इफेक्ट, न करें इग्नोर

बच्चों में वैक्सीनेशन के  बाद कुछ हल्के साइड इफेक्ट दिख सकते हैं। हालांकि ये लक्षण माइल्ड होते हैं और पैरेंट्स को इससे घबराने की जरूरत नहीं है।

नई दिल्लीः 15 से 18 साल के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। बच्चों में वैक्सीनेशन के  बाद कुछ हल्के साइड इफेक्ट दिख सकते हैं। हालांकि ये लक्षण माइल्ड होते हैं और पैरेंट्स को इससे घबराने की जरूरत नहीं है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, वैक्सीन का पहला डोज लेने के बाद कुछ लक्षण नजर आएंगे, जिन पर आपको ध्यान देना चाहिए। इसके साथ ही ये भी जानना जरूरी है कि पहली डोज के तुरंत बाद ही असर दिखना शुरू नहीं होगा। पहली डोज के 4 हफ्ते बाद सेकेंड डोज लगेगी और इसके भी 4 हफ्ते बाद इम्युनिटी विकसित होगी।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, 18 और 60 प्लस के एज ग्रुप के लोगों में वैक्सीनेशन के कुछ संभावित साइड इफेक्ट दिखे थे और हो सकता है वो बच्चों में भी नजर आएं, लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। ये हल्के साइड इफेक्ट दिखाते हैं कि वैक्सीन ने अपना काम करना शुरू कर दिया है।
 

त्वचा पर लाल निशान और दर्द

हाथ में जहां पर वैक्सीन लगाई गई है, वहां लाल निशान और दर्द की समस्या हो सकती है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक, वैक्सीनेशन के लाल निशान और दर्द को कम करने के लिए टीकाकरण वाले एरिया पर एक ठंडा, नरम कपड़ा रखें।
 

बेहोशी 

वैक्सीन लगाने के बाद बेहोशी की समस्या भी हो सकती है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक, इसके लिए वैक्सीनेशन के बाद लगभग 15 मिनट तक बैठने या लेटने से ये समस्या नहीं होगी।

हल्का बुखार

वैक्सीनेशन के बाद बच्चों को हल्का बुखार हो सकता है। इसके लिए डॉक्टर की सलाह पर दवाई लें।

थकान और दर्द

वैक्सीन लगवाने के बाद बच्चों को थकान और बदन दर्द की समस्या भी हो सकती है। CDC के मुताबिक, बच्चे को आराम करने दें और उन्हें अधिक मात्रा में लिक्विड पदार्थ दें। हालांकि पैकेज्ड लिक्विड चीजें देने से बचें।

चक्कर आना

वैक्सीनेशन के बाद कुछ बच्चों को चक्कर आने की समस्या हो सकती है। हालांकि ये वैक्सीन लगाने का साइड इफेक्ट नहीं है। ऐसा तब होता है जब बच्चे खाली पेट वैक्सीन ले लेते हैं, इसलिए इस बात पर ध्यान दें कि बच्चे खाली पेट वैक्सीन लगवाने न जाएं। इसके अलावा कई और लक्षण भी दिख सकते है। अगर आपको लगता है कि ये लक्षण माइल्ड नहीं हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

You can share this post!

Home Isolation में कैसे रखें खुद का ख्याल, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी गाइडलाइंस

सर्दियों में ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल, डाइट में शामिल करें ये फूड्स

Leave Comments