होम / लाइफस्टाइल

भक्त के वश में हैं भगवान... आगरा के पुजारी ने फिर याद दिलाया बीते दौर का भजन

मूर्ति नीचे गिरने पर लेख सिंह बहुत दुखी हुए और अस्पताल खुलने से पहले ही जिला अस्पताल के गेट पर पहुंच गए।

Twitter/Viral Pic

आगरा: भजन गायक नीरज शर्मा का भजन भक्त के वश में है भगवानतो आपने भी सुना होगा। इस भजन में एक बुजुर्ग महिला भगवान कृष्ण की भक्ति में इस हद तक डूब जाती है कि वो मूर्ति में ही भगवान को देखने लगती है। जब एक बार महिला की तबीयत खराब होती है और वो महिला अपनी बहू-बेटों से भगवान की सेवा करने को कहती है, तब मूर्ति नीचे गिर जाती है और बुजुर्ग महिला को बहुत दुख होता है। बुजुर्ग महिला की जिद पर बहू-बेटे डॉक्टर को बुलाते हैं और डॉक्टर भी ये जानकर हैरान हो जाता है कि जिस मूर्ति को वो निर्जीव समझ रहे थे उसमें जान थी।

आगरा में रील नहीं रीयल मामला

भजन में भले ही पूरा सेट लगाकर शूटिंग पूरी की गई हो लेकिन ब्रज क्षेत्र में एक ऐसी ही असल कहानी सामने आई है जिसे सुनकर आप चौंक जाएंगे। आगरा के खासपुरा इलाके के एक मंदिर में लेख सिंह कई सालों से पूजा कर रहे हैं। लेख सिंह जब पूजा कर रहे थे तब उनके हाथ से लड्डू गोपाल (भगवान कृष्ण का बाल स्वरूप) की मूर्ति नीचे गिर गई। मूर्ति नीचे गिरने पर लेख सिंह बहुत दुखी हुए और अस्पताल खुलने से पहले ही जिला अस्पताल के गेट पर पहुंच गए। जैसे ही ओपीडी खुली लेख सिंह पर्चा बनवाने की लाइन में लग गए और जब बारी आई तो लड्डू गोपाल के नाम से पर्चा बनाने को कहा। इतना सुनते ही पर्चा बनाने वाला कर्मचारी चौंक गया और जब आस-पास के लोगों की इसका पता चला तो वो भी पर्चा बनवाने की लाइन छोड़कर वहीं इकट्ठे हो गए।

ब्रज में ही जन्मे थे भगवान कृष्ण

भगवान कृष्ण का जन्म द्वापर युग में ब्रज क्षेत्र मथुरा में ही हुआ था। द्वापर युग को गुजरे भले ही हजारों साल बीत गए हों लेकिन आज भी पूरा ब्रज भगवान कृष्ण के भक्ति रस में डूबा हुआ है। मथुरा, वृंदावन, गोवर्धन, बरसाना और नंदगांव में भगवान कृष्ण और राधा रानी के किस्से और कहानी आज भी लोगों की जुबां पर है। पूरे ब्रज में सुबह की शुरुआत राधे-राधे और जय श्री कृष्ण से ही होती है। भगवान कृष्ण और राधा रानी के दर्शन के लिए पूरी दुनिया से लोग ब्रज में पहुंचते हैं और भक्ति रस का पूरा आनंद उठाते हैं। ब्रज की तुलना कई लेखकों ने स्वर्ग से की है।

ब्रज रज की महिमा अमर, ब्रज रस की है खान

ब्रज रज माथे पर चढ़े, ब्रज है स्वर्ग समान

Related Tags:
Agra-Laddu-Gopal Lord-Krishna-Idol -Priest Agra-Hospital-Treats-Lord-Krishna-Idol

You can share this post!

Today Panchang: 21 नवंबर 2021, जानें आज का नक्षत्र फल, शुभ मुहूर्त

Today Panchang: 23 नवंबर 2021, जानें आज का नक्षत्र फल, शुभ मुहूर्त

Leave Comments