होम / दुनिया-जहान

US: डॉक्टरों का ऐतिहासिक कारनामा, इंसानी शरीर में फिट कर दिया सूअर का दिल

सफल प्रत्यारोपण के बाद वह अब ठीक हो रहे हैं और शरीर में प्रत्यारोपित नया अंग किस तरह से काम कर रहा है, इसकी पड़ताल और निगरानी सावधानीपूर्वक की जा रही है।

तस्वीर: Twitter

न्यूयॉर्क: विज्ञान की दुनिया में बड़ा करिश्मा हुआ है। अमेरिकी डॉक्टरों की टीम ने इंसानी शरीर में सूअर के दिल का प्रत्यारोपण किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिकी सर्जनों ने 57 साल के व्यक्ति में आनुवंशिक रूप से संशोधित सुअर से एक दिल को सफलतापूर्वक प्रत्यारोपित किया है, जो मेडिकल के क्षेत्र में अंग दान की पुरानी कमी की समस्या को हल करने में मदद कर सकता है।

अंग प्रत्यर्पण के बाद अब कैसी है मरीज की स्थिति?

सफल प्रत्यारोपण के बाद वह अब ठीक हो रहे हैं और शरीर में प्रत्यारोपित नया अंग किस तरह से काम कर रहा है, इसकी पड़ताल और निगरानी सावधानीपूर्वक की जा रही है। मैरीलैंड निवासी ने सर्जरी से एक दिन पहले कहा था कि या तो मर जाऊं या फिर यह प्रत्यारोपण किया जाए। मैं जीना चाहता हूं। मुझे पता है कि यह अंधेरे में शॉट खेलने जैसा है, लेकिन यह मेरी आखिरी पसंद थी। पिछले कई महीनों से हार्ट-लंग बाइपास मशीन पर बिस्तर पर पड़े बेनेट ने कहा कि मैं ठीक होने के बाद बिस्तर से बाहर निकलने के लिए उत्सुक हूं।

ये भी पढ़ें: Coronavirus: भारत में 1.69 लाख मामले, सबसे आगे महाराष्ट्र; आगरा में नए प्रतिबंध तो हरिद्वार से आई ये बड़ी खबर

एफडीए ने आखिरी समय में दी थी सर्जरी की अनुमति

बता दें कि अमेरिकी सरकार की एजेंसी एफडीए ने 31 दिसंबर को इस अंग प्रत्यारोपण के लिए मंजूरी दी थी। इस सर्जरी में शामिल रहे डॉक्टर बार्टले ग्रिफिथ ने कहा कि ये एक सफल सर्जरी थी और हमें अंग की कमी के संकट को हल करने के लिए एक कदम और करीब लाती है। उन्होंने आगे कहा कि हम सावधानी से आगे बढ़ रहे हैं, लेकिन हम यह भी आशावादी हैं कि यह दुनिया में पहली सर्जरी भविष्य में रोगियों के लिए एक महत्वपूर्ण नया विकल्प प्रदान करेगी।



अमेरिका में 1.10 लाख मरीज अंग दानियों के इंतजार में

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, करीब 110,000 अमेरिकी वर्तमान में अंग प्रत्यारोपण की प्रतीक्षा कर रहे हैं, और प्रत्येक वर्ष 6,000 से अधिक मरीजों की मृत्यु हो जाती है। मांग को पूरा करने के लिए डॉक्टर लंबे समय से तथाकथित जेनोट्रांसप्लांटेशन या क्रॉस-प्रजाति अंग दान में रुचि रखते हैं।

You can share this post!

North Korea: पूर्वी सागर की ओर से हफ्ते में किया दूसरा बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण

अफगानिस्तान: तालिबान कर रहा सरकारी कर्मचारियों की भर्ती, लेकिन महिलाओं की No Entry

Leave Comments