होम / क्राइम

सोशल मीडिया पर क्यों गूंज रहा है #JusticeForRabia, कौन है राब‍िया? जानें यहां

राबिया मामले में सरकारों की चुप्पी के बाद देश में कई जगहों पर Justice For Rabia को लेकर कैंडल मार्च निकाले गए हैं। राबिया मामले पर सरकारों की चुप्पी को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों की नाराजगी देखी जा सकती है।

राबिया को न्याय दिलाने News India पहुंचा ग्राउंड ज़ीरो

27 अगस्त को दिल्ली सिविल डिफेंस में तैनात 21 वर्षीय युवती राबिया की चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी गई। हत्या के बाद हत्यारों ने राबिया के शव को सूरजकुंड स्थित जगंल में फेंक दिया। पोस्टमार्ट में राबिया के शरीर पर 50 जगह चाकुओं से गोदने के निशान आये हैं। हत्यारों ने राबिया के साथ इतनी बर्बरता की कि उसके स्तनों को भी चाकुओं से काट डाला था। हालांकि राबिया के परिजनों ने उसके साथ गैंगरेप की बात भीकही है लेकिन इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हो पाई है। घटना के बाद से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। हालांकि पुलिस ने गैंगरेप होने की बात से इनकार किया है, लेकिन परिजनों को पुलिस की बात पर विश्वास नहीं है और वो पूरे मामले की सीबीआई जांच चाहते हैं। 

वहीं मृतका के परिजनों का सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वो इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं। घटना को 10 दिन बीत गए लेकिन राज्य सरकार से लेकर केंद्र सरकार तक इस मामले पर कुछ नहीं बोल रहे हैं। दिल्ली सरकार ने वारदात के चार दिन बाद बस कुछ मुआवजे की बात की है। राबिया मामले में सरकारों की चुप्पी के बाद देश में कई जगहों पर Justice For Rabia को लेकर कैंडल मार्च निकाले गए हैं। राबिया मामले पर सरकारों की चुप्पी को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों की नाराजगी देखी जा सकती है। पिछले कुछ समय से सोशल मीडिया पर #JusticeForRabia लगातार ट्रेंड कर रहा है। लोग लगातार राबिया को न्यान दिलाने के लिए मांग करते हुए देखे जा सकते हैं। 

यह भी पढ़ेंः Justice for Rabia: राबिया को इंसाफ दिलाने के लिए देशभर में कैंडल मार्च

कौन थी राबि‍या?

राबिया ऊर्फ साब‍िया सैफी देश की राजधानी दिल्ली के संगम विहार की रहने वाली 21 वर्षीय सिविल डिफेंस की कर्मचारी थी। 27 अगस्त को राबिया की हत्या की जानकारी मिली उसके बाद उसकी हत्या की खबरें मीडिया की सुर्खियां बन गईं। पुलिस के मुताबिक एक निजामुद्दीन नाम के एक शख्स ने दिल्ली पुलिस के सामने सेरेंडर किया है। निजामुद्दीन दिल्ली के ही जैतपुर का रहने वाला है। बताया जाता है कि उसने राबिया को नौकरी दिलाने में काफी मदद की थी। निजामुद्दीन खुद को राबिया का पति बता रहा है। उसने बताया कि जून 2021 में उसने कोर्ट मैरिज की थी लेकिन वो इसका प्रमाण नहीं दे पाया है। निजामुद्दीन ने ये कबूल किया है कि उसी ने लड़की का मर्डर किया है। निजामुद्दीन ने बताया कि उसे इस बात का शक था कि राबिया का किसी और के साथ अफेयर चल रहा था।

 

यह भी पढ़ेंः दिल्ली सिविल डिफेंस में तैनात युवती के परिजनों को न्याय दिलाने News India पहुंचा ग्राउंड ज़ीरो

राबिया के परिजनों ने शादी की बात से किया इनकार

निजामुद्दीन को शक था कि लड़की का किसी और के साथ अफेयर चल रहा था। जिस वजह से उसने लड़की की हत्या की है। सेरेंडर के बाद निजामुद्दीन ने बताया कि उसने हरियाणा में लड़की को मारा है और दिल्ली पुलिस को लोकेशन भी बताई। जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने सूरजकुड थाने में फोन किया। फिर हरियाणा पुलिस ने बताई गई लोकेशन से लड़की का शव बरामद किया। निजामुद्दीन के मुताबिक उसने राबिया से 3 महीने पहले कोर्ट मैरिज की थी। इस बारे में जब न्यूज इंडिया की टीम ने मात पिता से बात की तो उन्होंने शादी की बात से साफ इंकार कर दिया और कहा कि ये बिल्कुल झूठ है उनकी बेटी की शादी नहीं हुई थी।

यह भी पढ़ेंःJustice For Rabia:अलीगढ़ में समाजवादी पार्टी ने कैंडल मार्च निकालकर किया प्रदर्शन

मीडिया में आने के बाद खुलने लगी राबिया हत्याकांड की सच्चाई

जब मीडिया ने राबिया की हत्या की पड़ताल शुरू की तो परत दर परत राज खुलने शुरू हो गए। राबिया के परिजनों ने हत्या से पहले उसके साथ गैंगरेप की भी आशंका जताई है, हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है। राबिया रोज की तरह सुबह ऑफिस के लिए घर से निकली लेकिन शाम को घर वापस नहीं आई। अमूमन उनकी बेटी रात 8 बजे तक घर वापस आ जाती थी घर वाले काफी परेशान हुए। बेटी को ढूंढते ढूंढते उसके ऑफिस पहुंचे लेकिन कोई जानकारी हाथ नहीं लगी। फिर घरवालों ने बेटी की सहेली जिसका नाम ज्योति है उसको फोन किया तो उसने भी घुमा फिरा कर जवाब दिया, जिसका एक ऑडियो भी वायरल हो रहा है। राबिया की हत्या में सबसे बड़ा सवाल ये सामने आ रहा है कि जब वो दिल्ली में नौकरी करती थी तो उसकी हत्या फरीदाबाद के सूरजकुंड पाली रोड पर क्यों की गई?

यह भी पढ़ेंःJustice For Rabia: News India पहुंचा राबिया के घर, अनुज ने बयां की परिजनों की स्थिति

सोशल मीड‍िया में उठी इंसाफ की मांग

पिछले 10 दिनों के दौरान राबिया की हत्या को लेकर मीडिया में लगातार खबरें आईं और सोशल मीडिया में भी राबिया की हत्या पर लोगों ने न्याय की गुहार की। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीड‍िया में राब‍िया के लिए #Justiceforsabiya ट्रेंड कर रहा है। देश की राजधानी दिल्ली से लेकर यूपी के कई शहरों में राबिया के लिए लोगों ने कैंडल मार्च निकाला. देश की जनता राबिया हत्याकांड पर काफी आक्रोशित है। राबिया के परिजनों के लिए लोग मीडिया पर आकर इंसाफ की मांग कर रहे है, यही कारण है की सोशल मीडिया में #JusticeForRabiya का ट्रेंड गूंज रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स लगातार राबिया और उसके परिजनों को इंसाफ दिलाने के लिए अपने रिएक्‍शन दे रहे हैं।

यह भी देखेंः युवती के परिजनों को न्याय दिलाने News India पहुंचा 'ग्राउंड ज़ीरो'

You can share this post!

Justice for Rabia: राबिया को इंसाफ दिलाने के लिए देशभर में कैंडल मार्च

तिहाड़ में अंकित गुर्जर की हत्या जेल पुलिस ने की या किसी और ने? अब जांच करेगी सीबीआई

Leave Comments