होम / क्राइम

तेलंगाना में काला जादू के संदेह पर भरी पंचायत में तीन लोगों की बेरहमी से हत्या

एक व्यक्ति और उसके दो बेटों की काला जादू के संदेह में एक पंचायत के दौरान बेरहमी से हत्या कर दी गई।

सांकेतिक चित्र

नई दिल्लीः तेलंगाना की राजधानी से 200 किलोमीटर दूर जगतियाल जिले में गुरूवार को एक व्यक्ति और उसके दो बेटों की काला जादू के संदेह में एक पंचायत के दौरान बेरहमी से हत्या कर दी गई।तकनीकी प्रगति के इस आधुनिक युग में भी, टोना-टोटका और अंधविश्वास न केवल तेलंगाना के कुछ हिस्सों में बड़े पैमाने पर व्याप्त है बल्कि इसके चलते लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ रही है।

यह घटना जगतियाल जिले के तारकराम नगर में येरुकला समुदाय की एक बैठक के दौरान हुई। तीखी बहस के दौरान सभा में शामिल कुछ लोगों ने नागेश्वर राव और उनके तीन बेटों पर चाकुओं और अन्य धारदार हथियारों से हमला कर दिया। उस समय वहां कम से कम 40-50 लोगों की भीड़ एकत्र थी।

योजनाबध्द तरीके से हुई हत्या

नागेश्वर राव (55), जगन्नाथम राम बाबू (35) और जगन्नाथम रमेश (30) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि राव का सबसे छोटा बेटा भागने में सफल रहा। पुलिस के मुताबिक हत्या के पीछे जादू-टोना के आरोप को लेकर पुरानी रंजिश बताई जा रही है। जगतियाल के पुलिस अधीक्षक सिंधु शर्मा ने कहा कि पुलिस गहन जांच कर रही है। पुलिस का मानना है कि यह एक सुनियोजित घटना थी क्योंकि इस समुदाय की बैठक हर छह महीने में एक बार होती है और इसमें सदस्यों की समस्याओं पर चर्चा होती है। हमलावर चाकू और अन्य हथियारों के साथ बैठक में आए थे।

पुलिस ने मामला दर्ज कर आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। समुदाय के कुछ सदस्यों ने राव और उनके परिवार पर काला जादू करने का आरोप लगाया था। एक महीने पहले सिरसिला जिले में राव पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला किया था। येरुकला वाडा में एक महिला की एक हफ्ते पहले मौत हो गई थी और राव के विरोधियों को शक था कि वह उसकी मौत के लिए जिम्मेदार है।

You can share this post!

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री रेड्डी को जान से मारने की धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार

अलीगढ़ में मिला अवैध कारखाना, भारी मात्रा में हथियार और निर्माण सामग्री बरामद

Leave Comments