होम / क्राइम

दिल्ली सिविल डिफेंस में तैनात युवती के परिजनों को न्याय दिलाने News India पहुंचा ग्राउंड ज़ीरो

जब न्यूज इंडिया की टीम ने माता पिता से बात कि तो पता चला कि उनकी बेटी ने इस बात का जिक्र पहले भी किया था कि उसके ऑफिस के लोग बेईमानी से पैसा कमाते हैं। पिता के कहा कि उनकी लड़की ने बताया था कि दिल्ली में 2000 रुपए की फर्जी पर्चियां काटी जाती हैं।

Team News India on Ground Zero

दिल्ली के संगम विहार की बेटी की बेरहमी से हत्या की गई। न्यूज इंडिया की टीम सच्चाई जानने के लिए ग्राउंड जीरो पर पहुंची। न्यूज इंडिया से अनुज श्रीवास्तव, निदा अहमद, और संजीव कुमार शहनाज (लड़की का बदला हुआ नाम) के घर पहुंचे। जहां सबसे पहले लड़की के माता पिता से बात की। घर वालों के मुताबिक जो कहानी उनकी बताई जा रही है उसमें काफी कुछ बातें सही नहीं हैं।  जब हमारी टीम ने बात करनी शुरु कि तो पता चला की उनकी बेटी सुबह ऑफिस के लिए घर से निकली लेकिन शाम को घर वापस नहीं आई। अमूमन उनकी बेटी रात 8 बजे तक घर वापस आ जाती थी घर वाले काफी परेशान हुए। बेटी को ढूंढते ढूंढते उसके ऑफिस पहुंचे लेकिन कोई जानकारी हाथ नहीं लगी। फिर घरवालों ने बेटी की सहेली जिसका नाम ज्योति है उसको फोन किया तो उसने भी घुमा फिरा कर जवाब दिया, जिसका एक ऑडियो भी वायरल हो रहा है।

जब बात आगे बढ़ी तो पता चला कि  उनकी बेटी के बॉस मेहरा को भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। जब बेटी का कहीं कुछ पता नहीं चला तो घरवाले थाने पहुंचे जहां पर उनकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई। परिवारवाले घर वापस आ गए। अगली सुबह हरियाणा के सूरजकुंड थाने से माता पिता को बुलावा आता है। जहां पता चलता है कि उनकी बेटी की हत्या कर दी गई है। बेटी के जिस्म पर चाकूओं से कई वार किए गए थे। पुलिस के मुताबिक एक निजामुद्दीन नाम के एक शख्स ने दिल्ली पुलिस के सामने सेरेंडर किया है। जो कि खुद को शहनाज (लड़की का बदला हुआ नाम) का पति बता रहा है। निजामुद्दीन ने ये कबूल किया है कि उसी ने लड़की का मर्डर किया है।

माता-पिता ने शादी की बात से किया इंकार

निजामुद्दीन को शक था कि लड़की का किसी और के साथ अफेयर चल रहा था। जिस वजह से उसने लड़की की हत्या की है। सेरेंडर के बाद निजामुद्दीन ने बताया कि उसने हरियाणा में लड़की को मारा है और दिल्ली पुलिस को लोकेशन भी बताई। जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने सूरजकुड थाने में फोन किया। फिर हरियाणा पुलिस ने बताई गई लोकेशन से लड़की का शव बरामद किया। निजामुद्दीन के मुताबिक उसने शहनाज (लड़की का बदला हुआ नाम) से तीन महीने पहले कोर्ट मैरिज की थी। इस बारे में जब न्यूज इंडिया की टीम ने मात पिता से बात की तो उन्होंने शादी की बात से साफ इंकार कर दिया और कहा कि ये बिल्कुल झूठ है उनकी बेटी की शादी नहीं हुई थी।

 

न्यूज इंडिया के सवाल  

• अगर शहनाज (लड़की का बदला हुआ नाम) की शादी निजामुद्दीन से हुई थी तो क्या उसके कागज पुलिस के पास मौजूद है?
• क्या शादी की कोई फोटो अब तक सामने क्यों नहीं आई?
• हत्या अगर हरियाणा में की गई है तो सेरेंडर निजामुद्दीन ने दिल्ली में क्यों किया?
• क्या दिल्ली पुलिस अपना काम ठीक ढंग से कर रही है?

लड़की के माता पिता ने चौंकाने वाले खुलासे किए

जब न्यूज इंडिया की टीम ने माता पिता से बात कि तो उन्होंने बताया कि उनकी बेटी ने इस बात का जिक्र पहले भी किया था कि उसके ऑफिस के लोग बेईमानी से पैसा कमाते हैं। पिता के मुताबिक उनकी लड़की ने बताया था कि दिल्ली में 2000 रुपए की फर्जी पर्चियां काटी जाती हैं। जिसके पीछे लाखों का खेल चल रहा है। जहां से शव बरामद हुआ न्यूज इंडिया की टीम वहां पहुंची । लड़की के माता पिता से बात करने के बाद हमारी टीम वहां पहुंची जहां से लड़की का शव बरामद किया गया। वहां पहुंचने के बाद हमें पता चला कि पाली रोड पर झाड़ियों से लड़की शव बरामद हुआ है। 

न्यूज इंडिया के सवाल 

• लड़की का जब शव मिला तो उसकी वर्दी पर किसी तरह के कटे के निशान नहीं थे. जबकि लड़की की छाती को चाकूओं से गोदा गया था ?
• पाली रोड पर हमेशा गाड़ियों की आवाजाही रहती है, ऐसे में कोई अकेला आदमी कैसे इतनी बेरहमी से रोड के किनारे किसी का मर्डर कर सकता है ?
• रोड के किनारे निजामुद्दीन चाकूओं से लड़की के उपर कई वार करता रहा लेकिन किसी ने उसको देखा कैसे नहीं?

सवाल कई हैं जिनका जवाब अभी तक ठीक से मिल नहीं रहा है। फिलहाल हरियाणा पुलिस 302 के मुकदमें में केस को लेकर जांच कर रही है। अब इंतजार है निजामुद्दीन का जिसको हरियाणा पुलिस को जल्द सौंपा जाएगा। इस पूरे केस में आगे क्या कोई नया खुलासा होता है ये आगे आने वाला वक्त बताएगा।

You can share this post!

दिल्ली सिविल डिफेंस में तैनात युवती की हरियाणा में निर्मम हत्या, 50 बार चाकू से किया वार

युवती के परिजनों को न्याय दिलाने News India पहुंचा 'ग्राउंड ज़ीरो'

Leave Comments