होम / क्राइम

NEET सॉल्वर गैंग: मास्टर माइंड PK के बारे में पुलिस को मिली अहम जानकारी

पुलिस को पता चला है कि NEET परीक्षा सॉल्वर गैंग के सरगना PK का असली नाम नीलेश सिंह है। वह बिहार के छपरा जिले का मूल निवासी है। NEET परीक्षा सॉल्वर गैंग के सरगना ने छात्रों से परीक्षा पास करने के नाम पर बड़ी रकम वसूली है।

NEET सॉल्वर गैंग के मास्टर माइंड PK के बारे में पुलिस को मिली अहम जानकारी.

नई दिल्ली: NEET परीक्षा सॉल्वर गैंग के मास्टर माइंड PK के बारे में वाराणसी पुलिस को अहम जानकारी मिली है। पुलिस को पता चला है कि PK का असली नाम नीलेश सिंह है और वह बिहार के छपरा जिले का मूल निवासी है। NEET परीक्षा सॉल्वर गैंग के सरगना ने छात्रों से परीक्षा पास करने के नाम पर बड़ी रकम वसूली है। कई साल से NEET परीक्षा सॉल्वर गैंग चला रहे PK ने पटना में 4 मंजिला आलीशान मकान बना लिया है। इस मकान में वह अपने परिवार के साथ रहता है।   

वाराणसी में अपने गिरोह के 6 लोगों का गिरफ्तारी होने के बाद से नीलेश उर्फ PK अपने पूरे परिवार सहित पटना से फरार हो गया है। बताया जा रहा है कि नीलेश महंगी गाड़ियों का शौकीन था। उसके घर पर कई गाड़ियां खड़ी रहती थीं। नीलेश सभी को अपना नाम प्रेम कुमार या PK बताता था।   

PK जिस कॉलोनी में रहता था, उसमें रहने वालों को अपना परिचय डॉक्टर के रूप में देता था। माना जा रहा है  कि शातिर PK उर्फ नीलेश सिंह  पुलिस के राडार पर पहली बार आया  है। NEET सॉल्वर गैंग के सरगना PK के  बेनक़ाब होने के बाद पुलिस ने उम्मीद जताई है कि इस मामले में जल्द ही कुछ और गिरफ्तारियां सकती हैं।   

NEET सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़ होने के बाद त्रिपुरा पुलिस से भी इससे जुड़े मामले में वाराणसी पुलिस ने संपर्क किया है। NEET सॉल्वर गैंग के शातिर सरगना ने अपनी जालसाजी से कई मुन्ना भाइयों को डॉक्टर बना दिया है। इस तरह की जालसाजी से बने डॉक्टर इस पवित्र पेशे को बदनाम कर रहे हैं। पुलिस को आशंका हे कि ये शातिर जालसाज अपना नाम बदलकर कहीं भी छुपा हो सकता है।

You can share this post!

मासूम से रेप और हत्या के आरोपी की रहस्यमय मौत, 2 दिन पहले मंत्री ने कही थी एनकाउंटर की बात

फेसबुक चैटिंग के चक्कर में गई महिला की जान, पति ने गला घोंटकर की हत्या

Leave Comments