होम / क्राइम

किसान को रौंदने वाले मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा ने किया सरेंडर

केंद्रीय मंत्री अजय कुमार मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने रविवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए सरेंडर किया है।

फोटो - सोशल मीडिया

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री अजय कुमार मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने रविवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए सरेंडर किया है। अजय मिश्रा लखीमपुर खीरी हिंसा का मुख्य आरोपी है। सुप्रीम कोर्ट ने आशीष मिश्रा की जमानत को रद्द करते हुए उसे सरेंडर करने के लिए एक सप्ताह का समय दिया था। जिसके बाद एक दिन रहते हुए आशीष मिश्रा ने रविवार को सरेंडर कर दिया। 

फरवरी में मिली थी जमानत

बता दें कि आशीष मिश्रा को फरवरी 2022 में इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा जमानत दी गई थी। यह जमानत अक्टूबर 2021 में लखीमपुर खीरी में हुए किसान नरसंहार से संबंधित थी।  जिसमें किसानों को जीप से रौंदा गया था। इस घटना में 4 किसान सहित 8 लोग मारे गए थे।

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने लिखी विवादित पोस्ट, कहा- 'पुलिस दबड़े में छिप जाएगी, घर में रखें तीर कमान'

बता दें कि पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट ने आरोपी की जमानत को चुनौती देने वाली किसानों की याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए आशीष मिश्रा के खिलाफ फैसला सुनाया था। तीन जजों की पीठ ने कहा कि हिंसा के पीड़ितों को इलाहाबाद उच्च न्यायालय में सुनवाई के अधिकार से वंचित कर दिया गया, जिसने मिश्रा को जमानत दी थी। उन्होंने उच्च न्यायालय से आशीष मिश्रा को दी गई जमानत पर पुनर्विचार करने को भी कहा था। 

इसे भी पढ़ें- 'उद्धव सरकार मेरी हत्या करवाना चाहती है', हमले के बाद बोले BJP नेता किरीट सोमैया

यह घटना 3 अक्टूबर, 2021 की है, जब किसान तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लखीमपुर खीरी जिले में विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान किसानों के बीच एक हिंसक झड़प हुई। जिसके बाद कथित तौर पर केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा के स्वामित्व वाली एक एसयूवी किसानों को कुचल गई, जिसमें चार की मौत हो गई। जैसा कि प्रदर्शनकारी किसानों का आरोप है, दुर्घटना के समय अजय मिश्रा का पुत्र आशीष मिश्रा कार के अंदर था।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News In Hindi    

You can share this post!

जहांगीरपुरी हिंसा: अंसार पर ED ने कसा शिकंजा, अकूत संपत्ति की होगी जांच

मां की गाली दी इसलिए जान से मार दिया, 15 साल के लड़के ने कुबूला जुर्म

Leave Comments