होम / क्राइम

कर्नाटक में ACB की छापेमारी : VIDEO में देखें कैसे ड्रेनेज पाइप से बरसे नोट

अधिकारियों ने कलबुर्गी में कनिष्ठ अभियंता शांता गौड़ा बिरदार के आवास पर छापेमारी की, जिसमें बाथरूम से लगे घर के ड्रेनेज पाइप के अंदर 13.50 लाख रुपये के करेंसी नोटों के बंडल मिले।

साभार- ट्विटर

नई दिल्लीः भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) के अधिकारियों ने बुधवार को राज्यभर में 68 स्थानों पर एक साथ छापेमारी की और एक घर की छत और ड्रेनेज पाइप में रखे 50 लाख रुपये से अधिक नोटों के बंडल बरामद किए। एसीबी सूत्रों के मुताबिक, नोट साड़ियों में भी छिपे हुए मिले हैं। अधिकारियों ने कलबुर्गी में कनिष्ठ अभियंता शांता गौड़ा बिरदार के आवास पर छापेमारी की, जिसमें बाथरूम से लगे घर के ड्रेनेज पाइप के अंदर 13.50 लाख रुपये के करेंसी नोटों के बंडल मिले। उन्होंने घर की छत से 15 लाख रुपये नगद भी बरामद किए। इस जूनियर इंजीनियर के घर से कुल मिलाकर, 55 लाख रुपये से अधिक बरामद किए गए।

टीम लगातार दरवाजा खटखटा रही थी, मगर शांता गौड़ा ने जब 15 मिनट तक अंदर से जवाब नहीं दिया, तब हाई ड्रामा शुरू हो गया। बाद में दरवाजा खोला गया, तब पता चला कि शांता गौड़ा उस समय अपने बेटे के साथ वॉश बेसिन आउटलेट में नकदी जमा करने में व्यस्त था। टीम को घर में प्रवेश करने के बाद पाइप काटना पड़ा, जिससे 13.50 लाख रुपये नगद जब्त किए। सूत्रों ने बताया कि शांता गौड़ा को अपने पिता से दो एकड़ जमीन विरासत में मिली थी और अब वह 35 एकड़ से ज्यादा जमीन का मालिक है।

 

यह भी पढ़ेंः गौतम गंभीर को जान से मारने की धमकी, साइबर सेल को सौंपी गई जांच

एसीबी अधिकारियों ने इसी तरह सकला विभाग के प्रशासक के रूप में कार्यरत एल.सी. नागराज के घर से साड़ियों में छिपाकर रखे गए नोटों के बंडल बरामद किए। अधिकारियों ने बेलगावी में ग्रुप 'सी' के कर्मचारी नटजी हीराजी पाटिल के आवास से डॉलरों का एक बंडल भी बरामद किया।

यह भी पढ़ेंः पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले हिंदू नेताओं की हत्या की साजिश रच रही ISI

कृषि विभाग के अधिकारी रुद्रेशप्पा के शिवमोग्गा आवास से अधिकारियों को 7.5 किलो सोना के 3.50 करोड़ रुपये मिले, जिसमें 100 ग्राम के 60 सोने के बिस्कुट, 50 ग्राम के 8 सोने के बिस्कुट, हीरे के हार और 15 लाख रुपये नकद शामिल हैं। वह इस समय गडग जिले में कार्यरत हैं।

यह भी पढ़ेंः मुंबई के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह के घर पर 'भगोड़े' का नोटिस चस्पा किया गया

सूत्रों ने कहा कि इससे पहले सुबह में उन्हें पता चला कि येलहंका सरकारी अस्पताल में फिजियोथेरेपिस्ट के रूप में काम करने वाले राजशेखर ने बेंगलुरु के पास डोड्डाबल्लापुर तालुक में तीन बीडीए साइटों, दो राजस्व साइटों के अलावा पांच एकड़ जमीन खरीदी है। अधिकांश खरीदारी कोविड महामारी के दौरान और उसके बाद की गई थी।

8 पुलिस अधीक्षक, 100 अधिकारी और 300 स्टाफ सदस्यों सहित 400 से अधिक एसीबी अधिकारियों की टीम द्वारा 15 सरकारी अधिकारियों पर छापेमारी जारी है। बुधवार तड़के से बेंगलुरु, कलबुर्गी, दावणगेरे, बेलागवी, मंगलुरु जिलों के विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की जा रही है।

Related Tags:
Karnataka Cash ACB raid engineer black-money कर्नाटक -छापेमारी -नगद -एसीबी -इंजीनियर

You can share this post!

पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले हिंदू नेताओं की हत्या की साजिश रच रही ISI

नवाब मलिक का समीर वानखेड़े पर नया आरोप, मां के डेथ सर्टिफिकेट में किया फर्जीवाड़ा

Leave Comments