होम / बिज़नेस

सरकारी बैंकों की हड़ताल से ग्राहकों को परेशानी, इन बैंकिंग सेवाओं पर असर

बैंकों की यूनियन के नेताओं ने कहा कि हमने जनता को परेशानी से बचाने के लिए हड़ताल को टालने की पूरी कोशिश की, लेकिन सरकार आगे नहीं आ रही थी।

विभिन्न सरकारी बैंकों की यूनियन के नेताओं ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के निजीकरण के सरकार के कदम के विरोध में करीब नौ लाख कर्मचारी गुरुवार से दो दिन की देशव्यापी हड़ताल पर जाएंगे। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) सहित ज्यादातर बैंकों ने पहले ही अपने ग्राहकों को चेक क्लीयरेंस और फंड ट्रांसफर जैसे कामों पर हड़ताल के संभावित असर के बारे में आगाह कर दिया है। अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ-एआईबीओसी (All India Bank Officers Confederation-AIBOC) की महासचिव सौम्या दत्ता ने कहा कि बुधवार को अतिरिक्त मुख्य श्रम आयुक्त के समक्ष एक सुलह बैठक विफल हो गई। इसलिए यूनियनें अपनी तय हड़ताल पर जा रही हैं। गौरतलब है कि सरकार ने 2021-22 के बजट में इस वर्ष के दौरान दो सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSB) का निजीकरण करने की अपनी मंशा की घोषणा की थी।

You can share this post!

सरकारी बैंकों के कर्मचारी आज से दो दिन की हड़ताल पर, सेवाओं पर होगा ये असर

हमेशा के लिए सस्ता हो जाएगा पेट्रोल, केंद्र सरकार ने लिया है ये बड़ा फैसला

Leave Comments