होम / बिज़नेस

Paytm पेमेंट्स बैंक ने बनाया रिकार्ड, एक महीने में मिले इतने करोड़ UPI ट्रांजैक्शन, दूसरे नंबर पर है SBI

एनपीसीआई का आंकड़ा बताता है कि पेटीएम को देश में सबसे अधिक 9260 लाख यूपीआई ट्रांजैक्शन मिले हैं, जबकि एसबीआई के प्लेटफॉर्म से सबसे अधिक यूपीआई पेमेंट दिए गए हैं।

नई दिल्लीः यूपीआई ट्रांजैक्शन के क्षेत्र में दो बड़ी कंपनियों ने रिकार्ड बनाए हैं। पहली कंपनी Paytm तो दूसरी कंपनी देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने इसमें अपना नाम दर्ज किया है। दरअसल, पेटीएम ने यूपीआई अमाउंट लेने के मामले में पहला स्थान प्राप्त किया है, जबकि एसबीआई से सबसे अधिक यूपीआई पेमेंट किए गए हैं। यह आंकड़ा नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने जारी किया है।

एनपीसीआई का आंकड़ा बताता है कि पेटीएम को देश में सबसे अधिक 9260 लाख यूपीआई ट्रांजैक्शन मिले हैं, जबकि एसबीआई के प्लेटफॉर्म से सबसे अधिक यूपीआई पेमेंट दिए गए हैं। यह आंकड़ा जारी होने के बाद पेटीएम ने दावा किया कि वह देश का पहला ऐसा बेनिफिशियरी बैंक बन गया है जिसे यूपीआई पेमेंट में पहला स्थान प्राप्त हुआ है। पेटीएम का पूरा नाम पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड या PPBL है। पेटीएम ने कहा है कि सिर्फ एक महीने में उसे 9260 लाख यूपीआई ट्रांजैक्शन प्राप्त हुए हैं।

क्या कहा पेटीएम ने

पीपीबीएल के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ सतीश गुप्ता ने एक बयान में कहा, हम अपने उपयोगकर्ताओं से इस तरह की उत्साहजनक प्रतिक्रिया पाने पर बहुत खुश हैं, जिन्होंने हमें यूपीआई भुगतान के लिए सबसे पसंदीदा लाभार्थी बैंक बनने में मदद की है। पीपीबीएल के सतीश गुप्ता ने एक बयान में कहा, “हम सुपरफास्ट यूपीआई मनी ट्रांसफर और पेटीएम वॉलेट और बैंक खाते का उपयोग करने की सुविधा प्रदान करने के लिए अपने अनुभव और तकनीकी ताकत का लाभ उठाना जारी रखेंगे।”

स्टेट बैंक का नया रिकार्ड

दूसरी ओर, देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने भी बड़ा रिकार्ड बनाया है। यूपीआई पेमेंट भी जहां तक पाने की बात है तो पेटीएम के बाद दूसरे स्थान पर एसबीआई का ही नाम है। यूपीआई के दूसरे सबसे बड़े लाभार्थी बैंक के रूप में स्टेट बैंक का नाम दर्ज किया गया है। एसबीआई को तकरीबन 6640 लाख यूपीआई ट्रांजैक्शन मिले हैं। NPCI के मुताबिक, यूपीआई के कुल ट्रांजेक्शन में 98.79 परसेंट ट्रांजेक्शन पेटीएम बैंक के प्लेटफॉर्म पर मंजूर हुए हैं।

किसे कितने मिले ट्रांजैक्शन

अक्टूबर-दिसंबर 2021 तिमाही में पीपीबीएल ने 2,507.47 मिलियन ट्रांजैक्शन प्राप्त किए। पिछले साल इसी तिमाही में पेटीएम को 964.95 मिलियन ट्रांजैक्शन मिले थे। पीपीबीएल ने एक बयान में कहा, “यह सालाना आधार पर 159.85 प्रतिशत की वृद्धि है। पेटीएम पूरे साल (मई 2021 को छोड़कर) में सबसे बड़ा यूपीआई लाभार्थी बैंक बना हुआ है और महीने-दर-महीने बढ़ता जा रहा है। पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा कि कंपनी का पूरा ध्यान अभी पेमेंट बिजनेस पर है।

पेटीएम को पेमेंट सर्विस से कमाई की भरपूर उम्मीद है। इसमें मर्चेट ट्रांसफर की भी हिस्सेदारी बढ़ाई जाएगी। एक अनुमान के मुताबिक मौजूदा तिमाही में पेमेंट सर्विस से 140 मिलियन अमेरिकी डॉलर या 1034 करोड़ रुपये की कमाई होने की उम्मीद है। एनपीसीआई के आंकड़ों के अनुसार, स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक का सबसे अधिक यूपीआई ट्रांजेक्शन का अप्रूवल रेट 96.74 प्रतिशत रहा है, जबकि सिटी बैंक ने यूपीआई लाभार्थियों के बीच अप्रूवल रेट 99.84 प्रतिशत दर्ज किया है।

You can share this post!

टैक्सपेयर्स को राहत, टैक्स विभाग ने 1,54,302 करोड़ रुपये से ज्यादा का जारी किया रिफंड

गूगल ने ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर को सुरक्षित करने के लिए सरकार से मांगी मदद

Leave Comments