होम / बिज़नेस

राहत! खाने का तेल होगा सस्ता, टैक्स घटा सकती है सरकार

आम लोगों को महंगे तेल से राहत देने के लिए सरकार क्रूड पाम ऑयल पर 5 फीसदी कृषि सेस को खत्म कर सकती है।

फोटो- सोशल मीडिया

नई दिल्ली: बढ़ती महंगाई के बीच सरकार जल्द ही लोगों को राहत दे सकती हैं। खाने के तेल के दामों में आई तेजी पर नियंत्रण लगाने के लिए केंद्र सरकार खाने के तेल पर टैक्स घटा (Tax on Edible Oil) सकती है। मालूम हो कि यूक्रेन और रूस के बीच जारी जंग और इंडोनेशिया के पाम ऑयल (Palm oil) के एक्सपोर्ट पर बैन लगाने के फैसले के बाद तेल के दामों में आग लगी है। ऐसे में अब आशंका जताई जा रही है कि सरकार टैक्स घटा सकती है।

Also Read: मंहगाई के बीच राहत भरी खबर, तेल, दाल और चावल के दामों में भारी गिरावट

खाने के तेल पर घट सकता है कृषि सेस

आयातित खाने के तेल पर लगने वाले सेस में सरकार कटौती का फैसला ले सकती है। माना जा रहा है कि आम लोगों को महंगे तेल से राहत दिलाने के लिए क्रूड पाम ऑयल पर 5 फीसदी कृषि सेस ( Agricultural Cess) को खत्म किया जा सकता है। 

सेस घटाने के बाद भी राहत नहीं!

मिंट की खबर के मुताबिक, एक सरकारी अधिकारी ने बताया है कि सेस में कमी आने के बाद भी तेल की कीमतों से राहत नहीं मिलेगी। इसकी वजह यह है कि कीमतें काफी तेजी से बढ़ी हैं, और तेल आयात पर अब केवल 5% का बहुत छोटा सेस है। अधिकारी का कहना है कि अगर इस सेस को खत्म भी किया जाएगा तो कोई खास असर नहीं पड़ेगा।

Also Read: फ्री में पाइए LPG सिलेंडर, जानिए कैसे ?

ऑयल इंडस्ट्री भी परेशान 

महंगे खाने के तेल की वजह से ऑयल इंडस्ट्री (Oil Industry) भी काफी परेशान है। जिसके चलते, इंडस्ट्री ने सरकार को कैनोला ऑयल पर इंपोर्ट ड्यूटी को 38.5 फीसदी से घटाकर 5.5 फीसदी करने की मांग की है। जिससे कैनोला तेल के आयात को शुरू किया जा सके। बता दें कि कनोला का तेल सफेद सरसों का तेल होता है, जिसकी ईर्युरिक एसिड कि मात्रा कम होती है, जो बिमारीयो से बचाने के लिये माना जाता है।

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Business News in Hindi

You can share this post!

LIC के IPO में बड़ा बदलाव, वीकेंड पर भी कर सकते हैं निवेश

LPG Price Hike: घरेलू रसोई गैस सिलेंडर के दाम फिर बढ़े, जानें क्या है नया रेट ?

Leave Comments