होम / ये तो ब्रेकिंग है जी

News India Exclusive: लौंगेवाला पोस्ट के वीर नायक भैरों सिंह राठौड़ से मिले गृहमंत्री अमित शाह

लोंगेवाला से दुश्मनों को खदेड़ने की आपकी वीरता और मातृभूमि के प्रति प्रेम ने देश के इतिहास व देशवासियों के हृदय में एक अपार श्रद्धा का स्थान बनाया है।

नई दिल्लीः केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह दो दिवसीय दौरे पर आज जैसलमेर में हैं। अमित शाह ने रोहिताश बॉर्डर (Rohitash Border) का दौरा किया और BSF जवानों के 57वें स्थापना दिवस समारोह में  शामिल हुए थे। अमित शाह ने आज 1971 के युद्ध में लोंगेवाला पोस्ट के वीर नायक भैरों सिंह राठौड़ से आज जैसलमेर में मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद अमित शाह ने कहा, आज लौंगेवाला के वीर नायक से मिलने का सौभाग्य मिला। उन्होंने कहा, लोंगेवाला से दुश्मनों को खदेड़ने की आपकी वीरता और मातृभूमि के प्रति प्रेम ने देश के इतिहास व देशवासियों के हृदय में एक अपार श्रद्धा का स्थान बनाया है।

केंद्रीय गृहमंत्री ने उन्हें नमन किया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इसके पहले अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर की रक्षा करने वाले बीएसएफ के जवानों से भी मुलाकात की थी। अमित शाह और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने रोहिताश सीमा चौकी पर बीएसएफ जवानों और अधिकारियों के साथ रात का भोजन भी किया था। अमित शाह ने कहा कि वह चौकी पर आज रात जवानों संग रात बिताएंगे और बॉर्डर पर होने वाली कठिनाइयोंको समझने और इसे कम करने के तरीके खोजने की कोशिश करेंगे।

जानिए कौन हैं भैरों सिंह राठौड़

साल 1971 में हुए भारत और पाकिस्तान के बीच की जंग में हमारे वीर जवानों ने पाकिस्तानी सैनिकों को दौड़ा-दौड़ाकर मारा था। भारतीय जवानों ने इस युद्ध में दुश्मनों की हर रणनीति को धत्ता साबित करते हुए जबरदस्त पराक्रम का परिचय दिया था। जैसलमेर के लोंगेवाला पोस्‍ट पर तैनात 120 भारतीय सैनिकों ने 40-45 टैंकों के साथ आए 3000 पाकिस्‍तानी सैनिकों को छठी का दूध याद दिला दिया था।

भैरो सिंह ने छुड़ाए थे दुश्मनों के छक्के

इस युद्ध में एक जवान ऐसे भी थे जिनकी बहादुरी की आज भी चर्चा की जाती है। शेरगढ़ के सूरमा भैरो सिंह राठौड़ ने इस युद्ध में दुश्मनों को बुरी तरह फेल कर दिया था। भैरो सिंह बीएसएफ की 14 बटालियन में 1971 में जैसलमेर के लोंगेवाला पोस्ट पर तैनात थे। उन्होंने एमएफजी से करीब 30 पाकिस्तानी दुश्मनों को ढेर किया था।

पाकिस्तानी टैंकों को ध्वस्त किया

भैरो सिंह लोंगेवाला पोस्ट पर मेजर कुलदीप सिंह के साथ मि्लकर पाकिस्तानी टैंकों को ध्वस्त कर दिया था। भैरो सिंह की वीरता और पराक्रम की कहानी को साल 1997 में जेपी दत्ता की रिलीज हुई बॉर्डर फिल्म में सुनील शेट्टी ने किरदार के रूप में फिल्मी पर्दे पर भी उतारा गया। युद्ध के बारे में भैरो सिंह ने कई मौकों पर जिक्र किया है। वह बताते हैं कि जब हाईकमान से आदेश आया तो वह तनोट होते हुए लोंगेवाला के पास पहुंचे थे। रातभर फायरिंग चली थी। लेकिन हमने युद्ध में पाकिस्तान को बुरी तरह से हराया।

You can share this post!

धरने की चपेट में 'धरना किंग' सिद्धू ने अस्थाई टीचरों के साथ सीएम आवास पर संभाला मोर्चा

शिखर पान मसाला के ठिकानों पर DGGI की रेड, 150 करोड़ की नकदी बरामद

Leave Comments