होम / बात देश की

प्रधानमंत्री मोदी ने की Indian Space Association की शुरुआत, कही ये बड़ी बात

आत्मनिर्भर भारत अभियान सिर्फ एक विजन नहीं है बल्कि एक well-thought, well-planned, Integrated Economic Strategy भी है।

तस्वीर: Twitter

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भारतीय अंतरिक्ष संघ (Indian Space Association) की शुरुआत की। इस मौके पर पीएम मोदी ने देश के शीर्ष अंतरिक्ष वैज्ञानिकों को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा, आज जितनी निर्णायक सरकार भारत में है, उतनी पहले कभी नहीं रही। Space Sector और Space Tech को लेकर आज भारत में जो बड़े Reforms हो रहे हैं, वो इसी की एक कड़ी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा कि मैं इंडियन स्पेस एसोसिएशन – इस्पा के गठन के लिए आप सभी को एक बार फिर बधाई देता हूं, अपनी शुभकामनाएं देता हूं। उन्होंने कहा कि 21वीं सदी का भारत आज जिस अप्रोच के साथ आगे बढ़ रहा है, जो रिफॉर्म कर रहा है उसका आधार है, भारत के सामर्थ्य पर अटूट विश्वास। इस सामर्थ्य के आगे आने वाली हर रुकावट को दूर करना हमारी सरकार का दायित्व है और इसके लिए सरकार कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है। हमारा स्पेस सेक्टर, 130 करोड़ देशवासियों की प्रगति का एक बड़ा माध्यम है।

 

भारत को ग्लोबल मैनुफैक्चरिंग पॉवरहाउस बनाने का लक्ष्य

पीएम मोदी ने कहा, 'हमारे लिए स्पेस सेक्टर का मतलब है बेहतर मैपिंग, इमेजिंग और connectivity की सुविधा और entrepreneurs के लिए शिपमेंट से लेकर डिलीवरी तक बेहतर स्पीड। आत्मनिर्भर भारत अभियान सिर्फ एक विजन नहीं है बल्कि एक well-thought, well-planned, Integrated Economic Strategy भी है। एक ऐसी strategy जो भारत के उद्यमियों, भारत के युवाओं के Skill की क्षमताओं को बढ़ाकर, भारत को Global manufacturing powerhouse बनाए। एक ऐसी strategy जो भारत के टेक्नोलॉजिकल एक्सपर्टीज को आधार बनाकर, भारत को innovations का Global center बनाए। एक ऐसी strategy, जो global development में बड़ी भूमिका निभाए, भारत के human resources और talent की प्रतिष्ठा, विश्व स्तर पर बढ़ाए।

इंडियन स्पेस एसोसिएशन में कई दिग्गज कंपनियां शामिल

आईएसपीए के संस्थापक सदस्यों में लार्सन एवं टुब्रो, नेल्को (टाटा ग्रुप), वनवेब, भारती एयरटेल, मैपमायइंडिया, वालचंदनागर इंडस्ट्री, अनंत टेक्नॉलजी लिमिटेड शामिल हैं। इसके अन्य सदस्यों में गोदरेज, अजिस्टा-बीएसटी एरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड, बीईएल, सेंटम इलेक्ट्रानिक्स एंड मैक्सर इंडिया शुमार हैं। (इनपुट-एजेंसी)

Related Tags:
Indian-Space-Association -Narendra-Modi -Space-Age -Space-Technology -Space-Sector -ISpA -Prime-Minister-Narendra-Modi

You can share this post!

लगातार दूसरे दिन 19 हजार से कम मामले आए सामने, 193 लोगों की हुई मौत

कांग्रेस में गांधी परिवार की गणेश परिक्रमा : नियति या मुक्ति हो सकेगी संभव

Leave Comments