होम / लाइफस्टाइल

Shardiya Navratri: शारदीय नवरात्रि की शुरुआत आज से, पीएम मोदी ने दी बधाई

हिन्दू धर्म के मुताबिक ये मान्यता है कि नवरात्रों के दौरान विधि-विधान से माता की पूजा-अर्चना करने पर मां दुर्गा की कृपा अपने भक्तों पर कृपा बनी रहती हैं।

शारदीय नवरात्रि 2021

नई दिल्लीः Shardiya Navratri की शुरुआत आज यानि 7 अक्टूबर से शुरू हो गए हैं। नवरात्र कलश स्थापना का मुहूर्त आज सुबह 6 बजकर 17 मिनट से शुरू होगा और दोपहर 7 बजकर 7 मिनट तक रहेगा। इस बार के नवरात्रों में सबसे खास बात ये रहेगी कि ये नवरात्र सिर्फ 8 दिन तक ही रहेंगे। नवरात्रि साल में दो बार आती है एक शारदीय नवरात्रि जो अक्टूबर में होती है और दूसरा चैत्र नवरात्र जो कि अप्रैल के महीने में होता है। हिन्दू धर्म के मुताबिक ये मान्यता है कि नवरात्रों के दौरान विधि-विधान से माता की पूजा-अर्चना करने पर मां दुर्गा की कृपा अपने भक्तों पर कृपा बनी रहती हैं। ज्योतिष के मुताबिक 7 अक्टूबर को चित्रा नक्षत्र, वैधृति योग में शारदीय नवरात्रि का शुभारंभ होगा। तृतीया और चतुर्थी ये दोनों एक ही दिन पड़ेंगे जिसकी वजह से इस बार शारदीय नवरात्र 8 दिन के होंगे।

भागवत पुराण के मुताबिक , नवरात्र की शुरुआत रविवार या सोमवार से होती है तो इसका अर्थ है कि माता हाथी पर सवार होकर आएंगी। वहीं जब शनिवार या मंगलवार को नवरात्र की शुरुआत होती है तो फिर माता अश्व की सवारी पर आती हैं। और जब नवरात्र की शुरुआत गुरुवार या शुक्रवार को होती है तो माता डोली पर सवार होकर आती हैं। इस साल गुरुवार को नवरात्र की शुरुआत हो रही है इस वजह से पर इस साल मां दुर्गा डोली पर सवार होकर आएंगी। 

पीएम मोदी ने दी नवरात्रि की बधाई 

नवरात्रि के पावन अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। पीएम ने माता की आराधना करते हुए अपनी एक तस्‍वीर भी शेयर की है।

 

नवरात्रि में भक्त 9 दिनों तक रखते हैं उपवास

मान्‍यता ये है क‍ि नवरात्रि के नौ द‍िनों में मां दुर्गा ने अपने प्रताप से मह‍िषासुर नामके राक्षस का वध किया था। मां दुर्गा का जन्‍म ब्रह्मा, व‍िष्‍णु और श‍िव जी के तेज से माना जाता है। इन नौ द‍िनों में भक्‍त उपवास रखकर मां की पूजा करते हैं। नवरात्रि में माता के भक्त सुबह और शाम के समय माता की कथा, मंत्र और आरती गाई जाती है। पूरे देश में नवरात्रि के नौ द‍िनों के दौरान माता के अलग-अलग स्‍वरूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रि के पहले द‍िन महाराजा अग्रसेन जयंती भी मनाई जाएगी। महाराजा अग्रसेन को श्री राम का वंशज माना जाता है। 

दिन भर बाजारों में बनी रही रौनक

शारदीय नवरात्र की शुरुआत से एक दिन पहले ही यानि बुधवार को बाजारों में काफी चहल-पहल दिखाई दी। लोग नवरात्र की तैयारी के लिए सामानों की खरीददारी के लिए बाजारों में निकले थे, जिसकी वजह से दिनभर बाजारों में आने जाने वालों का तांता लगा रहा। पूरे देश के बाजारों में बुधवार को काफी हलचल रही। लोग हवन पूजन सामग्री से लेकर माता की पूजा के लिए नारियल चुनरी और कई तरह की पूजन सामग्रियां खरीदने में जुटे हुए थे। वहीं नवरात्र को लेकर शहर के विभिन्न मंदिरों को रंग बिरंगी लाइटों से सजाया जा रहा था।

इस तरह से होंगे शारदीय नवरात्रि 2021

07 अक्टूबर को- मां शैलपुत्री की पूजा व घट स्थापना
08 अक्टूबर को- मां ब्रह्मचारिणी की पूजा
09 अक्टूबर को- मां चंद्रघंटा का दिवस
10 अक्टूबर को- मां कुष्मांडा पूजन
11 अक्टूबर को- मां स्कंदमाता और मां कात्यायनी की होगी पूजा
12 अक्टूबर को- मां कालरात्रि की आराधना
13 अक्टूबर- मां महागौरी पूजन
14 अक्तूबर- मां सिद्धिदात्री की होगी पूजा

Related Tags:
Shardiya-Navratri -Navratri -Indian-Tredition -Indian-Culture -Indian-Festival -Shardiya-Navratra-2021 Navratri-2021 -Navratra-2021 -Navaratri-Prepration -Shardiya-Navratri

You can share this post!

अयोध्या में भव्य रामलीला का शुभारंभ आज

शारदीय नवरात्रि का पहला दिन, माता शैलपुत्री की पूजा से पूरी होगी मनोकामना

Leave Comments