होम / क्राइम

दिल्ली हाईकोर्ट ब्लास्ट की रेकी में शामिल था पकड़ा गया पाक आतंकी

आतंकी मोहम्मद अशरफ ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसने इंडिया गेट, लाल किला, आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय सहित 10 जगहों की रेकी की थी।

पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद अशरफ

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सोमवार को जिस पाकिस्तानी आतंकवादी को पकड़ा था, वह दिल्ली में कम से कम 10 जगहों पर आतंकी हमलों के लिए रेकी करने में शामिल था। पकड़े गए आतंकवादी मोहम्मद अशरफ ने दिल्ली हाईकोर्ट में 2011 में हुए बम धमाके के लिए भी रेकी की थी। सूत्रों ने बताया कि जब अशरफ को दिल्ली हाईकोर्ट में उसकी एक तस्वीर दिखाई गई तो उसने कबूल किया कि वह बम धमाके से पहले रेकी में शामिल था। बहरहाल इस बात का पता नहीं चल पाया है कि वह बम धमाके को अंजाम देने में शामिल था या नहीं। अभी इस बारे में कोई पुख्ता सबूत नहीं मिला है। 

मोहम्मद अशरफ ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसने आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय की भी रेकी की थी। लेकिन वह पुलिस मुख्यालय के बारे में कोई खास जानकारी नहीं जुटा पाया। क्योंकि पुलिस ने उसको हर बार मुख्यालय से बहुत दूर ही रोक दिया। आतंकी अशरफ ने ISBT की भी रेकी की थी और उसकी जानकारी पाकिस्तान के अपने आकाओं को भेजी थी। उसने इंडिया गेट और लाल किला सहित 10 जगहों की रेकी की थी। 

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डिप्टी कमिश्नर प्रमोद कुशवाहा ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि लक्ष्मी नगर इलाके से पकड़ा गया आतंकवादी फर्जी दस्तावेजों के सहारे एक दशक से ज्यादा समय से भारत में जगह बदलकर रह रहा था। कुशवाहा ने बताया कि पकड़े गए आतंकी ने पूछताछ में स्पेशल सेल को बताया कि पिछले काफी सालों से इंडिया में रहकर वह स्लीपर सेल की तरह काम कर रहा था।

ये भी पढ़ें: तो सावरकर को महात्मा गांधी ने दया याचिका के लिए मनाया! रक्षा मंत्री का तो यही है कहना

लक्ष्मी नगर इलाके से गिरफ़्तार किए गए पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद अशरफ को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया था। जिसके बाद गिरफ़्तार किए गए पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद अशरफ को अदालत ने 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। अशरफ सोशल मीडिया के जरिए अपने हैंडलर से संपर्क करता था। अब तक इसने 10 साल में 5-6 ठिकाने बदले थे। ये पहले तुर्कमान गेट के एरिया में रहता था। इस वक्त फेस्टिवल सीजन में अशरफ किसी बड़े कारनामे को अंजाम देने के लिए जुटा था।

Related Tags:
-ISI -2009-Jammu-bus-stand-blast -Pakistani-terrorist-ashraf -2011-Delhi-High-court-Blast -आईएसआई-2009-जम्मू-बस-स्टैंड-विस्फोट -पाकिस्तानी-आतंकवादी-अशरफ -2011-दिल्ली-उच्च-न्यायालय-विस्फोट

You can share this post!

पिस्टल लेकर बुलेट पर स्टंट करना पुल‍िस दीवान के बेटे को पड़ा भारी, फोटो वायरल, मुकदमा दर्ज

ड्रग्स केस: जेल में बीतेगी आर्यन खान की रात, कोर्ट में टल गई सुनवाई

Leave Comments