होम / क्राइम

Narendra Giri Death Case : CBI ने आरोपियों के पॉलीग्राफ टेस्ट की अनुमति मांगी

नरेंद्र गिरी की मृत्यु के मामले की जांच कर रही CBI ने प्रयागराज के चीफ जूडिशियल मजिस्ट्रेट की कोर्ट से गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों का पॉलीग्राफ टेस्ट कराने की अनुमति मांगी है।

महंत नरेंद्र गिरि ( फाइल फोटो)

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मृत्यु के मामले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने प्रयागराज के चीफ जूडिशियल मजिस्ट्रेट कोर्ट से गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों का पॉलीग्राफ (लाई डिटेक्टर टेस्ट) कराने की अनुमति मांगी है। नरेंद्र गिरी की हत्या के आरोपी आनंद गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी 18 अक्टूबर कर न्यायिक हिरासत में हैं और इस समय नैनी जेल में बंद हैं। 

प्रयागराज कोर्ट के सामने पेश आवेदन में पुलिस ने कहा कि तीनों आरोपी पुलिस हिरासत के दौरान सही जानकारी देने से बचते रहे हैं। CBI के आवेदन में कहा गया है कि इसे देखते हुए महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले की सच्चाई को सामने लाने के लिए तीनों आरोपियों का साइंटिफिक टेस्ट कराना जरूरी है। 

ये भी पढ़ें: कोयले की कमी से निपटने के लिए सरकार की तैयारी, कर रही ये बड़ा उपाय

देश के संत समाज के सबसे बड़े संगठन अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी 20 सितम्बर को प्रयागराज के बाघम्बरी मठ के अपने कमरे में संदिग्ध हालत में मृत पाए गए थे। उनके पास से एक सुसाइड नोट मिला था। इसमें आनंद गिरी और दो अन्य आरोपियों के नाम लिखे थे। मामले की जांच 23 सितम्बर को CBI को सौंप दी गई थी।  

  

Related Tags:
CBI Prayagraj -All-India-Akhara-Parishad -Mahant-Narendra-Giri -Suspicious-Death -Central-Bureau-of-Investigation -Polygraph -Lie-Detector-Test -Anand-Giri -Aadya-Prasad-Tiwari -Sandeep-Tiwari -प्रयागराज -अखिल-भारतीय-अखाड़ा-परिषद -महंत-नरेंद्र-गिरी -संदिग्ध-मृत्यु -केंद्रीय-जांच-ब्यूरो -पॉलीग्राफ लाई-डिटेक्टर-टेस्ट आनंद-गिरी -आद्या-प्रसाद-तिवारी -संदीप-तिवारी--

You can share this post!

राजस्थान: हिरासत में संदिग्ध ISI एजेंट, पूछताछ में हो सकते हैं अहम खुलासे

पिस्टल लेकर बुलेट पर स्टंट करना पुल‍िस दीवान के बेटे को पड़ा भारी, फोटो वायरल, मुकदमा दर्ज

Leave Comments